bhojpuri manthan

जलवायु परिवर्तन चिंता के गंभीर विषय

जलवायु परिवर्तन भारत ही ना बल्कि पूरा विश्व खातिर एगो बड़ा ही गंभीर मुद्दा रहल बा| पूरा विश्व एकरा के लेके चिंतित बा| सबसे पाहिले इ कि जलवायु परिवर्तन ह का? जलवायु परिवर्तन हरित गृह प्रभाव (Green house effect)के वजह से होखे वाला तपन ह, जवना में पृथ्वी से टकराकर लौटे वाला सूर्य के किरणके वातावरण में उपस्थित कुछ गैस अवशोषित कर लेला|जवना के परिणामस्वरुप पृथ्वी के तापमान में वृद्धि होला|…

Read More >>
bhojpuri manthan faujdaar aheer

अमर शहीद फौजदार अहीर

पंडित राजकुमार शुकुल के भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के अग्रदूत कहल जाव त एमे कवनो अतिसयोक्ति ना होई ।  उनकर पारखी नजर मोहनदास करमचंद गांधी के अंदर छिपल दिव्य तेज के पहिलही नजर में पहचान लेह्लक अउरी भागीरथी प्रयास करके गांधी के चंपारण के भूमि पर  १० अपरील १९१७ के  उतार देह्लक। गांधी जब चंपारन से लवटलेन त दुनिया उनका के महात्मा के रूप में स्वीकार कइलक़। आज हमरा हर्ष हो…

Read More >>
bhojpuri manthan narendra modi

बेहाल विपक्ष कइसे लड़ी २०१९ के लड़ाई ?

उतर प्रदेश आ उतराखण्ड में मिलल भाजपा के प्रचंड जीत से बिपक्ष उबरल ना रल तले दिल्ली के नगर निगम के चुनाव में मिलल भारी जीत बिपक्ष के परेशानी बढ़ावे ला काफी बा । राजनीतिक विश्लेषक लोगन के राय बा की एमसीडी जइसन नगर निकाय के चुनाव नतीजा के  महागबंधन बनावे वाले दल के ओर से हल्का में लेहल कतई उचित ना होइ । एकर कारण इ बा कि देश…

Read More >>
bhojpuri manthan

वायु प्रदूषण के कारण आ बचाव

वायु-गैस, जलवाष्प आ ठोस कण के मिश्रण ह। पृथ्वी हवा आवरण के रूप में वायुमंडल से घिरल बा। वायुमंडल आवरण के तुलना फल के बाहरी छिलका से कइल जा सकेला। धरती के घेर के रखेवाली गैसी झिल्ली ओतने नाजुक बा जेतना फल के बाहरी छिलका। वायुमंडल में शामिल अलग-अलग गैस अपना औसते मात्रा में रहे के चाही-नाइट्रोजन (79 प्रतिशत), ऑक्सीजन (20 प्रतिशत), कार्बनडाईऑक्साइड (0.03 प्रतिशत) के साथ निऑन, हीलियम, आर्गन,…

Read More >>
bhojpuri manthan

ऑनलाईन भईल जेब आइल गजब झोल झमेल

ऑनलाईन भईल जेब आइल गजब झोल झमेल सटऽले त गईले बेटा, लटऽकऽल त पुलिस के डंडा, बुरी नजर वाला तोहर मुंह काला, हसीना के जिनगी बिस्कुट अउरी  केक पर ड्राईवर के  जिनगी क्लच अउरी ब्रेक प, उच्चकन अउरी जेबकतरन से सावधान, अईसन शेर आ संदेश नबे के दशक में देश के छोट बड़ शहरऽन कऽ बस आ ट्रकऽन प चार चॉद लगावत रहे। वोह घरि अइसन कवनों सवारी ना होत…

Read More >>
bhojpurimanthan

देश में एगो बरियार मुस्लिम महिला आन्दोलन के जरूरत

देश में कव दशक से धर्म के नाम प वोट बैंक के राजनीति होत रहल बा। हरेक चुनाव में बस इहे सुने के मिलल बा कि हम‘मुस्लिम खातिर हई कर देब हउ कर देब’। लेकिन सच्चाई इ बा कि इ सब कहके सच्चा हितैषी बने खेल त शुरू हो जाला लेकिन कोई कुछ ना करे। एह शोर में मुस्लिम समाज के असली चुनौति मुद्दा बने से अछूता रह जाला। राजनीती…

Read More >>
bhojpurimanthan

परेम : समर्पण आ विश्वास

  फरवरी माह के आरंभ होत नवका पीढ़ी मे कुछ नया कुलबुलाहट देखे के मिलता । फलना दिवस आ चिलना सप्ताह पहिले त इ सब झमेला ना रहल ह । हमनी के देश मे प्रेम त सबसे अद्बभुत बा । इहां प्रेम के प्रतीक राधा कृष्ण के जोड़ी मानल जाला । हमनी के इहवा बसंत मास ही पुरा प्रेम पर समर्पित बा । कृष्ण जहां राधा के संग रास रचावत…

Read More >>
pandwani-singer-padamshree

पद्मश्री के तंगहाली में मौत छोड़ गइल अनेक सवाल

जिनगी से बड़का कुछु ना होला,  जब जिनगी ही ना रही त कवनो सभाखन चाहे कवनो पुरस्कार का करी । ८ फरवरी रात नौ बजे पेट के दरद आ खुजली के शिकायत पर मशहूर पंडवानी गायक पद्मश्री पूनाराम निषाद के सस्पेंड भर्ती करावल गइल आ शनिचर के दुपहर दु बजे उ काल के गाल मे समा गइलन । घर वाला लोगन के कहनाम रहे कि अस्पताल मे भर्ती भइला के…

Read More >>
bhojpourimanthan

एह लोकतंत्र में औरतन के अच्छा दिन कब आई ?

भारतीय स्त्री सुनत मन मे जे छवि आवेला उ माई , भौजाई चाहे बहिन के होखेला.साड़ी पहिनले, सेनुर चुड़ी धारण कईले आ व्रत त्यौहार करत माई , हंसी ठिठोली करत भौजाई चाहे समुचे घर फिरके लेखा घूमत बहिनिया , जमाना चाहे कतनो आगे बढ़ गईल होखे ,हमार मन मे त इहे छवि प्रकट होखेला  । आज  आजादी के कई साल बाद भी अउरी गणतंत्र लागु होखे के अनेको साल बाद…

Read More >>
bhojpurimanthan

भारतीय संविधान लोकतांत्रिक मूल्यन के संघर्ष

आजादी के तुरंत बाद हमनी के जवन संविधान अपनइनीजा अउरी बाद में समयानुसार संसोधन कईल गईल ओकरा हिसाब से सही मायना में समानता प आधारित एगो लोकतांत्रिक समाज दने बढ़त बढ़त अब तक ले जाती धर्म अउरी संस्कृति के तमाम दबाव से मुक्त हो गईल चाहत रहे| स्वतंत्रता के लगभग 70 साल बाद दलित, गरीब, आदिवासी, अल्पसंख्यक अउरी औरतन के स्तिथि के कवना मापदंड से मापल जाव| एह समूह के…

Read More >>