bhojpurimanthan
This post has been viewed 96 times

राजग सरकार से बिहार के दलित निराश आ परेशान बाड़े: मांझी

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) अगिला लोकसभा चुनाव के ध्यान में राखत बिहार में भाजपा से मुकाबला खाती दलित मतदाता के अपना ओर लुभावे में जुट गईल। भाजपा से किनारा भईल दलित नेता के राजद अपना पक्ष में करे खाती लागल बिया। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री अवुरी एनडीए से अलग भईल जीतन राम मांझी पहिलही राजद के संगे आ गईल बाड़े।

जीतन राम मांझी कहले कि केंद्र अवुरी बिहार के राजग सरकार से बिहार के दलित निराश बाड़े अवुरी राज्य में इ समुदाय परेशानी में बाड़े। उ कहले कि उनुका जईसन दलित नेता खाती एकमात्र विकल्प दोसरा गठबंधन के संगे गईल बा काहेकि पहिला गठबंधन से कवनों फायदा नईखे भईल।

दलित नेता अवुरी बिहार विधानसभा के पूर्व स्पीकर उदय नारायण चौधरी भी पछिला सप्ताह जदयू से नाता तूर लेले। उ लालू यादव के नेतृत्व वाला राजद के समर्थन देवे के घोषणा कईले बाड़े।

संयोग बा कि चौधरी अवुरी मांझी विरोधी नेता रहल अब दुनों राजद के नेतृत्व वाला गठबंधन के संगे बाड़े। ए गठबंधन में कांग्रेस भी शामिल बिया। ए मौजूदा हालात के राज्य में दलित के भाजपा विरोधी मूड के रूप में देखल जाता।

राजद के प्रवक्ता अवुरी राज्यसभा सदस्य मनोज झा कहले कि नेता जमीनी सच्चाई के बढ़िया से पहचानतारे। फिलहाल हम कह सकतानी कि बिहार के 70 प्रतिशत दलित राजद के संगे बाड़े। राजद के संगे आवेवाला नेता जमीनी हकीकत के पहचानतारे। मांझी अवुरी चौधरी के गठबंधन छोड़ला प भाजपा के कहनाम बा उनुकर कवनों जनाधार नईखे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *